सीवी क्या है

यदि आपनें अभी तक कहीं job नहीं किया है या job के लिए interview नहीं दिया है तो definitely आपको सीवी के बारे में कोई idea नहीं होगा क्यूंकि सीवी एक ऐसा ही document होता है जोकि jobs के entrance में हमसे माँगा जाता है तो इस post में हम आज इसी बारे में जानेंगे ।

यदि आपने कहीं job के लिए apply किया है तो जब आपको interview के लिए call आएगा तो आपके कुछ basic documents के साथ सीवी की मांग करते हैं क्यूंकि सीवी in short अधिक जानकारी provide करता है और यदि आप online job sites पर खुद को register करते हैं तो भी सीवी की recuirement होती है।

सीवी क्या है | what is CV in Hindi

सीवी एक ऐसा document होता है जोकि हम खुद बनाते हैं या फिर चाहें तो किसी computer center के जरिये भी सीवी बनवा सकते हैं, सीवी में हम अपने बारे में short में अधिक जानकारी provide करते है जिससे की interviewer को हमारे बारे में पूरी जानकारी मिल जाती है और वो चाहे तो हमारे सीवी के base पर हमसे question भी कर सकता है।

हम सीवी को ये कह रहे हैं की इसमें सारी जानकारियां in short होती हैं तो इसका मतलब ये नहीं की बहुत short में होती है बलकि मेरा मतलब ये है की सभी चीजों को हमें अलग से define करने की जरुरत नहीं होती है और हम अपनीं सारी जानकरियां अपनी सीवी में fill कर सकते हैं जोकि हमारे job के पाने के chances को बढ़ाये।

सीवी के page

सीवी के ऐसा document है जिसमें हम अपने बारे में skills, achiecements, qualifications इत्यादि बहुत सी चीजों के बारे में बताते हैं तो जाहिर सी बात है इसकी लम्बाई अधिक होगी यानीं की अधिक pages होंगे, एक सीवी 2 – 4 page का होता है, जी हाँ 2 – 4 page का मतलब ही की आपको अपने बारे में काफी जानकारियां provide करनीं होंगी।

और यदि आप सोच रहे हैं की आप सिर्फ एक ही page में साऱी information provide कर देंगे तो आप गलत सोच रहे हैं क्यूंकि यदि आप in short (single page) में ही सीवी बनाने का प्रयाश करते हैं तो सबसे पहली चीज तो problem ये है की आप उसमें पूरी जानकारी provide नहीं कर पाएंगे

और दूसरी चीज ये है की जब आप in short अपने बारे में detail provide कर देंगे और अपनीं सीवी सिर्फ एक ही page में complete कर देंगे तो उसे आप सीवी नहीं कह सकते हैं बल्कि उसे resume कहा जायेगा।

जी हाँ क्यूंकि सीवी और resume दोनों अलग अलग हैं और दोनों अलग अलग condition में मांगे जाते हैं जैसे की यदि आपनें किसी job के लिए apply किया है और interview के लिए जा रहे हैं तो (Private sector में ही अधिकतर ऐसा होता है की apply करके direct interview के लिए जा सकते हैं)

तो इस condition में recruiter को आपके बारे में कोई जानकारी नहीं होती है और सबसे job देने के लिए जरुरी होता है की उसे आपके बारे में पूरी जानकारी हो जाये, तो यहाँ पर resume नहीं बलकि सीवी माँगा जायेगा जोकि resume के मुकाबले अधिक जानकारी provide करता है।

और यदि आप resume लेकर जाते हैं तो हो सकता है की आपको वो job भी न मिले इसलिए जब भी job के लिए जा रहे हों तो company द्वारा यदि सीवी कहा गया है तो सीवी लेकर जाएँ और यदि resume कहा गया है resume लेकर जाएँ लेकिन यदि नहीं कहा गया है तो सीवी लेकर जाएँ।

सीवी में कौन सी जानकारियां होती हैं

वैसे तो कुछ basic चीजें होती हैं जोकि include करना necessary होता है जैसे की आपके बारे में personal जानकारी जैसे की name, address, qualification, contact information (Mobile number, email इत्यादि, यदि आपके पास email account है तो use भी सीवी में जरूर डालें क्यूंकि इससे interviewer पर खास impression पड़ता है), employment history, work experience, Volunteer Experience, वैसे तो अधिकतर लोग volunteer experience को define नहीं करते हैं लेकिन इसे भी सीवी में include किया जाना चाहिए।

यदि आपनें कोई award हासिल किया हो तो उस बारे में भी सीवी में बतायें क्यूंकि इससे job पाने के chances बढ़ जाते हैं, Basic education के आलावा और अन्य certificates यदि कोई आपनें हासिल किया हो, फिर चाहे वो short term हो या long term, matter नहीं करता है

Hobbies और interests काफी महत्वपूर्ण चीजें होती हैं तो इसको अपनीं सीवी में शामिल करना बिलकुल भी ना भूलें, बताएं की आपको क्या अच्छा लगता है  आपका interest किस चीज में हैं।

कोई Profession यदि हो तो जैसे की आप किसी website के admin हों किसी youtube channel के admin हों, क्यूंकि यदि आपके पास website है और उसे mention करते  तो interviewer की नजर में आपकी respect बढ़ जाएगी, हालाँकि ये भी बात है की यदि आपके ये profession होते तो आप job के लिए क्यों जाते।

लेकिन कई बार ऐसा होता है की बहुत से लोग websites create करते हैं youtube channels create करते हैं जोकि इस समय एक बहुत ही common बात है यदि आपनें भी  कुछ ऐसा किया है भले ही वो grow न हुवा हो लेकिन उसके बारे में सीवी में जरूर mention करें।

सीवी बनाना

सीवी बनाने के कई रास्ते हैं जैसे की computer से, mobile से या फिर किसी computer center पर जाकर सीवी बनवा सकते हैं, यदि आप स्वयं से सीवी बनाते हैं तो हो सकता है की आपको कुछ problem हो क्यूंकि अपने पहले कभी भी सीवी नहीं बनाया है और यदि आप खुद से अपनीं सीवी बनाते हैं तो भी printout के लिए computer center पर जाना होगा, लेकिन शयादा  किसी computer center से बनवाना उचित रहेगा क्यूंकि उससे आपका सीवी आसानीं से बन जायेगा और printout भी मिल जायेगा।

कुछ महत्वपूर्ण बिन्दु

सीवी का फुल फॉर्म क्या है?

CV का फुल फॉर्म Curriculum vitae होता है और यह मुख्य रूप से सीवी के ही नाम से जाना जाता है इसके पूर्ण रूप से इसे बहुत कम ही लोग जानते हैं

सीवी का क्या महत्व होता है?

सीवी में मुख्य रूप से हमारा संक्षिप्त बायोडाटा रहता है जिससे कि इंटरव्यूअर बहुत ही आसानी से हमारे बारे में संक्षिप्त जानकारियां प्राप्त कर सकता है यहां तक की शादियों के लिए भी बहुत जगहों पर सीवी इस्तेमाल किया जाता है।

Leave a Comment

एप्सोल हिंदी