एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज)

आज के इस पोस्ट में हम एनएसई के बारे में जानेंगे क्योंकि जब भी  हमे ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीके की बात करते है तो उसमें शेयर बाजार की बात जरूर आती है, और जब हम इसके बारे में जानना शरू करते है तो हमे एनएसई के बारे में कई बार सुमन को मिलता है, तो आज इस पोस्ट में हम इसी बारे में सभी जानकारी को प्राप्त करने का प्रयाश करेंगे ।

एनएसई क्या है

एनएसई एक सॉर्ट नाम है और इसका फुल फॉर्म नेशनल स्टॉक एक्सचेंज होता है  (national stock exchange), नेशनल स्टॉक एक्सचेंज भारत का सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज है, यह मुंबई में स्थित है इसकी स्थापना 1992 में हुई थी आज के लगभग 29 वर्ष पहले, एनएसई के चेयरमैन इस समय पर गिरीश चंद्र चतुर्वेदी जी है।

एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज) पूरी तरह से  एक तरह का व्यापार मॉडल है इसमे हमारी एक्सचेंज लिस्टिंग, ट्रेडिंग सेवाएं, बाजार डेटा फीड, प्रौद्योगिकी समाधान और वित्तीय शिक्षा भी शामिल हैं।

एनएसई का शेयर बाजार में निगमों के लिए क्षमताओं को बढ़ाने और एक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के लिए इकुटी और डेरिवेटिव, मुद्राओं और म्यूचुअल फंड इकाइयों सहित यह नई लिस्टिंग, सार्वजनिक ऑफ़र (आईपीओ) और ऋण जारी करने के लिए काम करता है।

एनएसई नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का कुल बाजार पूंजी 3.1 ट्रिलियन डॉलर से भी अधिक है, जो इसी के साथ 2021 में दुनिया का 10वां सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज भी बन गया है।

एनएसई एक्सचेंज को 15 अलग अलग ब्रॉड मार्किट इंडेक्स से मिला कर बनाया गया है, और इसमें भारत की अलग अलग सेक्टर की लगभग 2000+ कम्पनीयां है, जिसमे लोग अपना निवेश करते है ।

एनएसई एक्सचेंज में ब्रॉड मार्केट इंडेक्स में सबसे लोकप्रिय और विस्वसनीय  इंडेक्स  निफ्टी 50 है, यह भारत के उन 50 कम्पनियों को मिला कर बनाया गया है जिसका पूंजी कारण बहुत ही अच्छा है और यह अपने सेक्टर के लीडर भी है और यह बाजार में लंबे समय से व्यापार कर रहे है ।

इसी वजह से  निफ़्टी 50 को स्टॉक इंडेक्स भारत और दुनिया भर में निवेशकों द्वारा भारतीय शेयर बाजार में बड़े पैमाने पर उपयोग किया जाता है, और मैं आपको जानकारी के लिए बता दूं कि  निफ़्टी 50 को एनएसई द्वारा 1996 में लॉन्च किया गया था।

वित्तीय बाजार में एनएसई सेवी के रूल और रेगुलेशन के अंदर रह कर काम करता है, और यह एक विस्वसनीय एक्सचेंज भी है, यदि आप नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में शेयर का व्यापार करते है तो आपके द्वारा किया गया निवेश बिल्कुल सुरक्षित होता है आप कभी भी अपने शेयर का खरीद और बेच सकते है ।

कुछ समय पहले एनएसई में ऑफलाइन खरीद फरोस होती थी लेकिन अब इसमें सभी चीजें ऑनलाइन तरीके से और बहुत ही आसान तरीके से हो जाता है, यदि आपको अब किसी भी कम्पनी के शेयर को एनएसई से buy या sell करना चाहते है तो आपको एक ब्रोकर की आवश्यक्ता होती है क्योंकि आप डायरेक्ट एनएसई से कोई भी शेयर खरीद या बेच नही सकते है, आपको ब्रोकर एक ट्रेडिंग अकाउंट और एक डीमैट अकाउंट ओपन करता है जिसमे माध्यम से ही हम किसी भी शेयर को buy या sell कर पाते है।

एनएसई का  मुख्य उद्देश्य भारतीय शेयर बाजार को सरल और पारदर्शी बनाना है, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग शेयर बाजार में निवेश कर सके और कंपनियों के साथ मोटा मुनाफा कमा सके, और कंपनी और शेयर धारक दोनों को इससे लाभ मिल सके ।

एनएसई एक्सचेंज पर इकुटी, कॉमोडिटी, करेंसी और डेरिवेटिव्स आदि की ट्रेडिंग होती है, यदि कोई भी निवेशक नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के केे किसी भी शेयर मे निवेश करना चाहता है तो सबसे पहले उसको मार्किट आर्डर के द्वारा आर्डर देना होता है, तो एनएसई आपका आर्डर स्वचालित कंप्यूटर के माध्यम से किसी दूसरे के मारकेट आर्डर से मिलान करता है, और अगर मिलान हो जाता है तो आपका आर्डर एनएसई लगा देता है यदि आर्डर किसी से मिलान नही खाता तो आपका आर्डर कैंसिल हो जाता है।

यानी जब आप किसी भी शेयर को buy कर रहे होते है तो उसे कोई sell भी कर रहा होता है, तो यदि दोनों आर्डर एक साथ लगते है तो ही आपका ऑर्डर एक्सिक्यूट होता है, और ये सभी चीजो को एनएसई एक्सचेंज मैनेज करता है,  और इसमें buy करने वाले और sell करने वाले कि पहचान छुपी होती है, ये सभी काम एनएसई करता है, और उसकी जिम्मेदारी भी होती है।

जब भी किसी भी कम्पनी को किसी भी बड़े फण्ड की जरूरत होती है तो ऐसे में कम्पनी अपना ipo जारी करती है और जोकि एनएसई के माध्यम से ही होता है और लोग उसमे अपने पैसे का निवेश करते है और बाद में वह कम्पनी एनएसई में लिस्ट होती है और सभी लोग उसके शेयर में ट्रैड करते है।

और मैं आपको जानकारी के लिए बता दूँ की एनएसई मार्केट सुबह 9:15 Am पर ओपन होता है और साम को 3:30 Pm पर बंद होता है, इसी के बीच में ही सभी ट्रैड एनएसई में लगाए और काटे जाते है।

तो ये थी कुछ जानकारी एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज) के बारे में, तो हमे उम्मीद है की आप सभी को हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छे से समझ में आ गई होगी।

Leave a Comment

एप्सोल हिंदी